Monday , May 10 2021
6th Hindi NCERT Vasant I

पार नज़र के: 6th Class NCERT CBSE Hindi वसंत Chapter 06

पार नज़र के 6th Class NCERT CBSE Hindi वसंत भाग 1 Chapter 06

प्रश्न: छोटू और उसकी माँ के बीच रोज क्या बात होती थी?

उत्तर: छोटू और उसकी माँ के बीच रोज सुरंगनुमा रास्ते की बात होती थी।

प्रश्न: मंगल ग्रह के लोगों के लिए अब अंतरिक्षयान छोड़ना असंभव क्यों है?

उत्तर: मंगल ग्रह के लोगों के लिए अब अंतरिक्ष यान छोड़ना असंभव है, क्योंकि उसके लिए आवश्यक मात्रा में ऊर्जा उपलब्ध नहीं है।

प्रश्न: नासा द्वारा छोड़े गए अंतरिक्ष यान का क्या नाम था?

उत्तर: नासा द्वारा छोड़े गए अंतरिक्ष यान का नाम वाइकिंग था।

प्रश्न: अंतरिक्ष यान वाइकिंग का यांत्रिक हाथ कैसे ठीक हुआ?

उत्तर: नासा के तकनीशियनों यान वाइकिंग के यांत्रिक हाथ को रिमोट कंट्रोल के सहारे ठीक किया।

प्रश्न: पृथ्वीवासियों के लिए कौन सा प्रश्न एक रहस्य है?

उत्तर: मंगल ग्रह पर जीवों का अस्तित्व है या नहीं, यह प्रश्न पृथ्वीवासियों के लिए रहस्य है।

प्रश्न: सुरंगनुमा रास्ते में छोटू के प्रवेश करने की खबर सिपाहियों को कैसे मिली?

उत्तर: सुरंगनुमा रास्ते में जगह-जगह निरीक्षक यंत्र लगे हुए थे। छोटू के वहाँ प्रवेश करते ही एक निरीक्षक यंत्र में संदेहास्पद स्थिति दर्शानेवाली हरकत हुई क्योंकि इतने छोटे कद का आदमी सुरंग में पहले कभी नहीं आया था। दूसरे निरीक्षक यंत्र ने छोटू की तस्वीर खींच ली। वहीं कहीं स्थित एक नियंत्रण केन्द्र में इस तस्वीर की जाँच कर खतरे की सूचना दी गई। तब सिपाही छोटू की खोज में दौड़ते हुए उस ओर आए।

प्रश्न: छोटू की माँ छोटू से क्यों नराज थी?

उत्तर: छोटू की माँ ने पहले भी कई बार छोटू को सुरंगनुमा रास्ते की तरफ जाने से मना किया था। फिर भी छोटू ने उनकी बात नहीं मानी। उसने पापा का सिक्यूरिटी पास चुराया और सुरंग का दरवाजा खोलकर उसके भीतर चला गया। यही कारण था कि छोटू की माँ उससे नराज थी।

प्रश्न: अंतरिक्ष यान को देख कर छोटू के पापा किस सोच में डूब गए?

उत्तर: अंतरिक्ष यान को देखकर छोटू के पापा सोचने लगे कि यह कहाँ से आया होगा। मंगल के अतिरिक्त और किस ग्रह पर जीवों का अस्तित्व है? क्या वे इतने विकसित हैं कि अंतरिक्ष यान छोड़ सकें। फिर वह सोचने लगते हैं कि कभी उनके पूर्वजों ने भी अंतरिक्ष यान छोड़ा था, लेकिन अब ऊर्जा की कमी से यह संभव नहीं है। छोटू के पापा उस अंतरिक्ष यान को नजदीक से देखना चाहते थे, जो उनकी धरती पर आ रहा था।

प्रश्न: अंतरिक्ष यान के आने की खबर सुनकर मंगल ग्रहवासियों की क्या प्रतिक्रिया हुई?

उत्तर: अंतरिक्ष यान के आने की खबर सुनकर मंगल ग्रह की कालोनी की प्रबंध समिति की सभा बुलाई गई। सभा के अध्यक्ष, समिति के सदस्य, वैज्ञानिक और सामाजिक व्यवस्थापक, सब अपनी धरती और अपने अस्तित्व की सुरक्षा के लिए चिंतित थे। उनका एक उद्देश्य यह भी था कि उस अंतरिक्ष यान के संबंध में अधिक-से-अधिक जानकारी एकत्र की जाए। वे सभा में यही योजना बनाने के लिए एकत्र हुए थे।

प्रश्न: अंतरिक्ष यान का यांत्रिक हाथ बेकार हो जाने पर पृथ्वी के लोगों ने क्या किया?

उत्तर: पृथ्वीवासी कभी नहीं जान पाए कि अंतरिक्ष यान के यांत्रिक हाथ के खराब होने के पीछे क्या वजह थी। नासा के वक्तव्य में यही बताया गया कि किसी अज्ञात कारण से ऐसा हुआ है। बाद में तकनीशियनों ने रिमोट कंट्रोल के सहारे उसे ठीक किया और तब अंतरिक्ष यान अपना निर्धारित कार्य करने लगा।

प्रश्न: छोटू का परिवार कहाँ रहता था?

उत्तर: छोटू का परिवार मंगल ग्रह पर बने भूमिगत घरों में रहता था।

प्रश्न: छोटू को सुरंग में जाने की इजाज़त क्यों नहीं थी? पाठ के आधार पर लिखो।

उत्तर: छोटू को या फिर किसी भी अन्य व्यक्ति को उस सुरंग में जाने की इजाज़त नहीं थी क्योंकि उस सुरंग से होता हुआ ज़मीन पर जाने का एक रास्ता था, आम आदमी के लिए इस रास्ते से जाने की मनाही थी।

प्रश्न: ट्रोल रूम में जाकर छोटू ने क्या देखा और वहाँ उसने क्या हरकत की?

उत्तर: छोटू जब कंट्रोल रूम गया तो उसने देखा सब लोग मंगल पर उतरे हुए यान की वजह से परेशान थे। जब सबका ध्यान स्क्रीन पर था तो उसका ध्यान कॉन्सोल पैनल पर था जिसके बटनों को देखकर वह स्वयं को रोक न सका और बटन दबाने की हरकत कर दी।

प्रश्न: इस कहानी के अनुसार मंगल ग्रह पर कभी आम जन-जीवन था। वह सब नष्ट कैसे हो गया? इसे लिखो।

उत्तर: मंगल पर पहले आम जन-जीवन हुआ करता था। परन्तु सूरज में हुए परिवर्तन के कारण वहाँ के वातावरण में बदलाव आने लगा और इसी तरह प्रकृति में भी बदलाव आने लगा जिसकी वजह से पशु-पक्षी, पेड़-पौधें और अन्य जीव उस बदलाव को सहने में असमर्थ हो गए और धीरे-धीरे मरने लगे जिससे वहाँ का सारा जन-जीवन अस्त व्यस्त हो गया और कुछ भी न बच सका।

पार नज़र के – प्रश्न: कहानी में अंतरिक्ष यान को किसने भेजा था और क्यों?

उत्तर: अंतरिक्ष यान को नासा (नेशनल एअरोनोटिक्स एंड स्पेस एडमिनिस्ट्रेशन) ने भेजा था ताकि वह मंगल की मिट्टी के नमूनों को एकत्र करके पृथ्वी पर जांच के लिए मंगवा सके।

प्रश्न: सिक्योरिटी-पास उठाते ही दरवाज़ा बंद हो गया।
यह बात हम इस तरीके से भी कह सकते हैं:
जैसे ही कार्ड उठाया, दरवाज़ा बंद हो गया।
ध्यान दो, दोनों वाक्यों में क्या अंतर है। ऐसे वाक्यों के तीन जोड़े तुम स्वयं सोचकर लिखो।

उत्तर:

  1. तेरे जाते ही बस आ गई।
    जैसे ही तू गया, बस आ गई।
  2. उसने पकड़ा पर खाना गिर गया।
    जैसे ही उसने पकड़ा, खाना गिर गया।
  3. कंडक्टर के कहते ही बस चल पड़ी।
    जैसे ही कंडक्टर ने कहा, बस चल पड़ी।

प्रश्न: नंबर एक, नंबर दो और नंबर तीन अजनबी से निबटने के कौन से तरीके सुझाते हैं और क्यों?

उत्तर: नंबर एक के अनुसार यानों को नष्ट करना समझदारी नहीं थी क्योंकि इससे उन यानों के विषय में जानकारी प्राप्त करना कठिन हो जाता। उसके अनुसार ये यान जीव रहित यान थे; जिससे उनके ग्रह को कोई खतरा नहीं था। इसी बात का समर्थन करते हुए नंबर दो के अनुसार अगर यंत्रों को बेकार कर दिया जाता तो उनके अस्तित्व को खतरा हो सकता था। इसलिए नम्बर दो के अनुसार सिर्फ अवलोकन करने में ही भलाई थी। और कुछ इसी तरह नम्बर तीन के अनुसार ऐसे प्रबन्ध करने आवश्यक थे जो उनके अस्तित्व को छिपाने में सहायक हो; ताकि उन्हें यहाँ कुछ भी प्राप्त न हो सके।

पार नज़र के – प्रश्न: छोटू ने चारों तरफ़ नज़र दौड़ाई।

छोटू ने चारों तरफ़ देखा।
उपर्युक्त वाक्यों में समानता होते हुए भी अंतर है।

वाक्यों में मुहावरे विशिष्ट अर्थ देते हैं। नीचे दिए गए वाक्यांशों में ‘नज़र’ के साथ अलग-अलग क्रियाओं का प्रयोग हुआ है। इनका वाक्यों या उचित संदर्भों में प्रयोग करो:

  1. नज़र पड़ना
  2. नज़र रखना
  3. नज़र आना
  4. नज़रें नीची होना

उत्तर:

  1. नज़र पड़ना: ज़मीन पर पड़े नोट पर मेरी नज़र पड़ी।
  2. नज़र आना: सोनू की गलती सबकी नज़र में आ गई है।
  3. नज़र रखना: परीक्षा में अध्यापक सब बच्चों पर नज़र रखे हुए हैं।
  4. नज़रें नीची होना: तुम्हारी गलत आदतों से हमारी नज़रें नीची हो गई।

प्रश्न: नीचे दो-दो शब्दों की कड़ी दी गई है। प्रत्येक कड़ी का एक शब्द संज्ञा है और दूसरा शब्द विशेषण है। वाक्य बनाकर समझो और बताओ कि इनमें से कौन-से शब्द संज्ञा हैं और कौन-से विशेषण।

आकर्षक आकर्षण,  प्रभाव प्रभावशाली, प्रेरणा प्रेरक

उत्तर:

  1. आकर्षण संज्ञा तथा आकर्षक विशेषण है।
    (i) अपने अभिनय द्वारा सीमा सबके आकर्षण का केन्द्र बन गई थी।
    (ii) रोहित का व्यक्तित्व आकर्षक था।
  2. प्रेरणा संज्ञा तथा प्रेरक विशेषण है।
    ​(i) मुझे इस कहानी से प्रेरणा मिली।
    (ii) इस किताब में कई प्रेरक कहानियाँ हैं।
  3. प्रभाव संज्ञा तथा प्रभावशाली विशेषण है।
    (i) युद्ध का प्रभाव विनाशकारी होता है।
    (ii) प्रधानमंत्री ने प्रभावशाली भाषण दिया।

पार नज़र के – प्रश्न: पाठ से फ़ और ज़ वाले (नुक्ते वाले) चार-चार शब्द छाँटकर लिखो। इस सूची में तीन-तीन शब्द अपनी ओर से भी जोड़ो।

उत्तर:

फ़ नुक्ते वाले शब्द

  • तरफ़
  • स्टाफ़
  • सिर्फ़
  • साफ़

ज़ नुक्ते वाले शब्द

  • रोज़
  • नज़र
  • इंतज़ार
  • दरवाजे

Check Also

6th Class English book A Pact With The Sun

The Monkey and the Crocodile: 6th Class English Chap 06

The Monkey and the Crocodile: NCERT 6th Class CBSE A Pact With The Sun English Chapter 06 …