Tuesday , November 12 2019
Home / Tag Archives: Hindi Essays for 8 Class Students (page 15)

Tag Archives: Hindi Essays for 8 Class Students

मेरी पालतू बिल्ली पर निबंध Hindi Essay on My Pet Cat

मेरी पालतू बिल्ली पर निबंध Hindi Essay on My Pet Cat

पशु पक्षी मनुष्य के जीवन साथी हैं। गाय-भैंस, भेड़-बकरी से मनुष्य दूध प्राप्त करता है। कुत्तों से अपने खेत खलिहानों और घर की रखवाली करता है। तोता, कबूतर, खरगोश, बिल्ली को पालकर आनन्दित होता है। अपनी-अपनी रुचि और आवश्यकता के अनुसार लोग पशु-पक्षी पालते हैं। मैंने भी एक नन्ही, प्यारी-सी …

Read More »

डॉ. ए. पी. जे. अब्दुल कलाम Hindi Essay on A. P. J. Abdul Kalam

डॉ. ए. पी. जे. अब्दुल कलाम Hindi Essay on A. P. J. Abdul Kalam

भारत का राष्ट्रपति राष्ट्र का प्रथम नागरिक एवं सर्वोच्च अधिकारी होता है। राष्ट्रपति बनने के लिए आवश्यक है कि वह बुद्‌धि एवं योग्यता दोनों में खरा हो ताकि वह संपूर्ण राष्ट्र के हितों को ध्यान में रखते हुए निर्णय ले सके। भारत के 12वें राष्ट्रपति के रूप में नियुक्त डॉ. …

Read More »

हिंदी दिवस पर निबंध: Essay on Hindi Diwas

हिंदी

हमारे भारत देश में हर साल हिंदी दिवस – Hindi Diwas 14 सितम्बर को ही मनाया जाता है, हिंदी भाषा के इतिहासिक पलो को याद कर लोग इस दिवस को मनाते है। 14 सितम्बर 1949 को ही हिंदी को देवनागरी लिपि में भारत की कार्यकारी और राष्ट्रभाषा का दर्जा अधिकारिक रूप से दिया गया था और …

Read More »

विज्ञान के वरदान पर निबंध: Hindi Essays on the Gift of Science

विज्ञान के वरदान पर निबंध: Hindi Essays on the Gift of Science

इस सृष्टि के रचयिता ब्रह्मा, पालन कर्त्ता विष्णु और संहारक शिव हैं। लेकिन मानव के नए-नए आविष्कारों को देखकर ऐसा लगता है इन तीनों महाशक्तियों को मानव ने अपने हाथों की कठपुतली बना लिया है। परखनली में शिशु को जन्म देकर ब्रह्मा को चौंका दिया। नए-नए उद्योग, कारखाने और कम्पनियां …

Read More »

भिक्षावृत्ति पर निबंध: Hindi Essay on Beggary

भिक्षावृत्ति पर निबंध: Hindi Essay on Beggary

‘वृत्ति’ शब्द का प्रयोग स्वभाव और आजीविका दोनों अर्थों में किया जाता है। भिक्षावृत्ति के संदर्भ में इस का अर्थ भिक्षा के द्वारा अपना भरण-पोषण करने से ही है। कविवर घाघ ने भिक्षावृत्ति को भरण पोषण का अन्तिम साधन बताते हुए कहा है: उत्तम खेती मध्यम वान। निषद चाकरी भीख …

Read More »

जंगल का राजा: शेर पर निबंध – Hindi Essay on Lion

जंगल का राजा: शेर पर निबंध - Hindi Essay on Lion

यदि यह प्रश्न पूछा जाए कि जंगल का राजा कौन है, तो शायद ही कोई ऐसा हो, जिसे मालून न हो कि शेर जंगल का राजा है। बहुत पुराने समय से उसे शक्ति और प्रभुत्व का प्रतीक माना जाता है। भारत ने भी उसे अपने राष्ट्रीय-चिन्ह में स्थान दिया है। …

Read More »

ऊँट पर निबंध: Hindi Essay on Camel

ऊँट पर निबंध: Hindi Essay on Camel

ऊँट एक डौमेडरी जानवर है। यह विदेश से आया है। ईसवीं पूर्व चौथी शती से ग्रीक आक्रमणकारियों के साथ खैबर दर्रे से होकर भारत आया था। आज वह भारत के रेगिस्तान में सर्वाधिक पाया जाता है। इसे रेगिस्तान का जहाज भी कहते हैं। ऊँट की चार टांगे, दो आखें, एक …

Read More »

लालबहादुर शास्त्री पर विद्यार्थियों और बच्चों के लिए हिंदी निबंध

लालबहादुर शास्त्री पर निबंध: Hindi Essay on Lal Bahadur Shastri

लाल बहादुर शास्त्री देश के सच्चे सपूत थे जिन्होंने अपना संपूर्ण जीवन देशभक्ति के लिए समर्पित कर दिया। एक साधारण परिवार में जन्मे शास्त्री जी का जीवन गाँधी जी के असहयोग आंदोलन से शुरू हुआ और स्वतंत्र भारत के द्वितीय प्रधानमंत्री के रूप में समाप्त हुआ। देश के लिए उनके …

Read More »

हमारा राष्ट्रीय पक्षी: मोर पर निबंध – Hindi Essay on National Bird Peacock

हमारा राष्ट्रीय पक्षी: मोर पर निबंध - Hindi Essay on National Bird Peacock

मोर हमारे जंगल का अत्यन्त सुन्दर, चौकन्ना, शर्मीला और चतुर पक्षी है। भारत सरकार ने 1963 में जनवरी के अन्तिम सप्ताह में इसे राष्ट्रीय पक्षी घोषित किया। सौन्दर्य का यह मूर्त रूप भारत में जनसाधारण को भी प्रिय है। कवि कालिदास ने भी (छठी शताब्दी) इसे उस जमाने में राष्ट्रीय …

Read More »

कौऐ पर निबंध: Hindi Essay on Crow

कौऐ पर निबंध: Hindi Essay on Crow

भारतीय संस्कृति में पशु-पक्षियों का विशेष महत्त्व है। कुछ पक्षी तो ऐसे हैं। जिनका सम्बन्ध भगवान के विभिन्न अवतारों से है। उल्लू लक्ष्मी का वाहन है। चूहा गणेश जी की सवारी है। कृष्ण मोर का पंख सदैव शीश पर धारण करते हैं। कृष्ण के हाथों में मक्खन रोटी छीन कर …

Read More »