Friday , September 25 2020

Tag Archives: Hindi Essays for 5 Class Students

रामनवमी: हिन्दू त्यौहार पर विद्यार्थियों और बच्चों के लिए हिंदी निबंध

रामनवमी: हिन्दू त्यौहार पर विद्यार्थियों और बच्चों के लिए हिंदी निबंध

भारत बहुदेवोपासक देश है। यहाँ के लोग अनेक देवी-देवताओं की पूजा करते हैं। परन्तु सबसे अधिक श्रद्धा-भक्ति-उपासना के पात्र हैं राम और कृष्ण। इनमें भी कृष्ण से अधिक राम के भक्त हैं। इसका कारण दोनों व्यक्तित्व में अन्तर है। कृष्ण लीला-पुरुष हैं, राम मर्यादापुरुषोत्तम; राम में शक्ति-शील-सौन्दर्य का समन्वय है, …

Read More »

मदर टेरेसा पर विद्यार्थियों और बच्चों के लिए हिंदी निबंध

मदर टेरेसा

मदर टेरेसा सचमुच में हजारों-हजारों लोगों के लिए माँ थी। उन्होंने हम सबको माँ का अथाह प्यार, स्नेह, दुलार,सेवा, त्याग आदि दिया। वे करुणा, त्याग, तपस्या, परोपकार और प्रेम की साक्षात देवी थीं। उन्होंने निराश्रित बेघर, गरीब, रुग्ण, अनाथ और अपाहिज लोगों को अपना कर जो सेवा इतने समय तक …

Read More »

हमारा राष्ट्रीय ध्वज पर विद्यार्थियों और बच्चों के लिए हिंदी निबंध

India

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा। झंडा ऊंचा रहे हमारा।। प्रत्येक देश का अपना राष्ट्रीय ध्वज होता है जो उस देश के गौरव और सम्मान का प्रतीक होता है। हमारा राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा है, जो देश की स्वतंत्रता के बाद से हमारे राष्ट्रीय भवनों पर फहरा रहा है। 15 अगस्त 1947 को भारतवर्ष …

Read More »

वर्षा ऋतु पर विद्यार्थियों और बच्चों के लिए हिंदी निबंध

बरसात के एक दिन पर हिंदी निबंध

विश्व में सर्वाधिक ऋतुओं की बहार भारत में देखने को मिलती है। यहाँ पर छः ऋतुएं – ग्रीष्म, वर्षा, शरद्, हेमन्त, शिशिर और बसन्त बारी-बारी से दो-दो महीने के अन्तराल पर आती हैं। ऋतुओं का यह परिवर्तन जीवन के लिए आवश्यक है। परिवर्तन के अभाव में जीवन नीरस हो जाएगा। …

Read More »

फलों के राजा आम पर हिंदी में निबंध

Mango

भारत में अनेक प्रकार के फल जैसे अंगूर, सेब, केला, संतरा, अमरूद, लीची, अनार आदि पाए जाते हैं। जो हमारे शरीर में पहुँचकर किसी न किसी विटामिन की कमी की पूर्ति करते रहते हैं। मेरा प्रिय फल आम है। भारतीय आम विश्व में अपने लज्जत और स्वाद के लिए प्रसिद्ध …

Read More »

मेरी दिल्ली पर विद्यार्थियों और बच्चों के लिए निबंध

New Delhi

भारत की राजधानी दिल्ली का इतिहास बहुत पुराना है। प्राचीन समय से लेकर आज तक इसका रूप, रंग तथा नाम बदलता रहा है। यहीं पर कौरबों और पाण्डवों का युद्ध हुआ, श्री कृष्ण ने पांचजन्य शंख का उद्घोष किया। यहीं महाराजा युधिष्ठिर ने राजसूय यज्ञ किया और इसका नाम ‘इन्द्रप्रस्थ’ रखा। …

Read More »

नेताजी सुभाष चन्द्र बोस पर हिंदी निबंध

Subhas Chandra Bose

नेताजी सुभाष चन्द्र बोस निबंध [500+ Words] देश को स्वतंत्र करने में जिन महान नेताओं ने विशेष योगदान दिया, उनमें सुभाषचन्द्र बोस का नाम चिर स्मरणीय है। सुभाषचन्द्र बोस के इस नारे से उत्साहित होकर, “तुम मुझे खून दो मैं तुम्हें आजादी दूँगा” हजारों देशवासी स्वतन्त्रता संघर्ष में कूद पड़े …

Read More »