Monday , March 8 2021
Hindi Grammar

संधि: Joining of Letters – Hindi Grammar for Students and Children

(2.) गुण स्वर संधि

नियम: यदि ‘अ’ या ‘आ’ के बाद ‘इ’ या ‘ई ‘ ‘उ’ या ‘ऊ ‘ और ‘ऋ’ आये ,तो दोनों मिलकर क्रमशः ‘ए’, ‘ओ’ और ‘अर’ हो जाते है। जैसे:

अ + इ = ए देव + इन्द्र= देवन्द्र
अ + ई = ए देव + ईश = देवेश
आ + इ = ए महा + इन्द्र = महेन्द्र
अ + उ = ओ चन्द्र + उदय = चन्द्रोदय
अ+ऊ =ओ समुद्र +ऊर्मि =समुद्रोर्मि
आ + उ = ओ महा + उत्स्व = महोत्स्व
आ + ऊ = ओ गंगा + ऊर्मि = गंगोर्मि
अ + ऋ = अर् देव + ऋषि = देवर्षि
आ + ऋ = अर् महा + ऋषि = महर्षि

(3.) वृद्धि स्वर संधि

नियम: यदि ‘अ’ या ‘आ’ के बाद ‘ए’ या ‘ऐ’आये, तो दोनों के स्थान में ‘ऐ’ तथा ‘ओ’ या ‘औ’ आये, तो दोनों के स्थान में ‘औ’ हो जाता है। जैसे:

अ + ए = ऐ एक + एक = एकैक
अ + ऐ =ऐ नव + ऐश्र्वर्य = नवैश्र्वर्य
आ + ए = ऐ महा + ऐश्र्वर्य = महैश्र्वर्य
सदा + एव = सदैव
अ + ओ = औ परम + ओजस्वी = परमौजस्वी
वन + ओषधि = वनौषधि
अ +औ = औ परम + औषध = परमौषध
आ +ओ = औ महा + ओजस्वी = महौजस्वी
आ + औ = औ महा + औषध = महौषध

(4.) यर्ण स्वर संधि

नियम: यदि ‘इ’, ‘ई’, ‘उ’, ‘ऊ’ और ‘ऋ’के बाद कोई भित्र स्वर आये, तो इ-ई का ‘यू’, ‘उ-ऊ’ का ‘व्’ और ‘ऋ’ का ‘र्’ हो जाता हैं। जैसे:

इ + अ = य यदि + अपि = यद्यपि
इ + आ = या अति + आवश्यक = अत्यावश्यक
इ + उ = यु अति + उत्तम = अत्युत्तम
इ + ऊ = यू अति + उष्म = अत्यूष्म
उ + अ =व अनु + आय = अन्वय
उ + आ =वा मधु + आलय = मध्वालय
उ + ओ = वो गुरु + ओदन= गुवौंदन
उ + औ = वौ गुरु + औदार्य = गुवौंदार्य
ऋ + आ = त्रा पितृ + आदेश = पित्रादेश

Check Also

Hindi Grammar

उपसर्ग: Prefix – Hindi Grammar for Students and Children

उपसर्ग – प्रत्यय शब्द दो प्रकार के होते है – मूल और व्युतपन्न यानी बनाए …