Sunday , September 23 2018
Home / 5th Class / राख की रस्सी: 5th Class CBSE Hindi Chapter 01
Hindi Grammar

राख की रस्सी: 5th Class CBSE Hindi Chapter 01

भोला-भाला:

प्रश्न: तिब्बत के मंत्री अपने बेटे के भोलेपन से चिंतित रहते थे?

(1) तुम्हारे विचार से वह किन किन बातों के बारे में सोच कर परेशान होते थे?

उत्तर: हमारे विचार से वे सोचते होंगे की उनका बेटा आगे चलकर अपना खर्चा कैसे चलाएगा और अपना जीवनयापन किस तरह करेगा।

(2) तुम तिब्बत के मंत्री की जगह होती तो क्या उपाय करती।

उत्तर: मैं तिब्बत के मंत्री की जगह होती तो अपने बेटे को प्यार से समझाती।

शहर की तरफ:

(I) प्रश्न: “मंत्री ने अपने बेटे को शहर की तरफ रवाना किया।”

(1) मंत्री ने अपने बेटे को शहर क्यों भेजा?

उत्तर: मंत्री ने अपने बेटे को शहर और दुनियादारी को समझाने के लिए भेजा था।

(2) उसने अपने बेटे को भेडो के साथ शहर में ही क्यों भेजा?

उत्तर: उसने अपने बेटे को भेड़ो के साथ शहर में इसलिए भेजा क्योंकि वह उसे कुछ चतुर और समझदार बनना चाहता था।

(3) तुम्हारे घर के बड़े लोग पहले कहां रहते थे? घर में पता करो। कुछ तो आज पड़ोस में किसी ऐसे व्यक्ति के बारे में पता करो, जो किसी दूसरी जगह जाकर बस गया हो। तो उनसे बातचीत करो रोज जानने की कोशिश करो की क्या अपने निर्णय से खुश है। क्यों? एक पुरुष, एक महिला और एक बच्चे से बात करो। यही भी पूछो कि उन्होंने वह जगह क्यों छोड़ दी?

उत्तर: हमारे घर के बड़े लोग पहले गांव में रहते थे। मेरे पड़ोस में गांव से आकर रहने वाला एक बच्चा अपने निर्णय से खुश है, क्योंकि यहां सभी मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध है। उस व्यक्ति ने वे स्थान कुछ परेशानियों के कारण छोड़ दिया। मेरे पड़ोस में रहने वाली एक महिला ने पति की नौकरी छोड़ने के कारण पुरानी जगह छोड़ वही मेरे पड़ोस में रहने वाले एक अन्य बच्चे ने पुरानी जगह अपने मां बाप के साथ दूसरी जगह जाने के कारण छोड़ दी।

(II) प्रश्न: ‘जौ’ एक तरह का अनाज है जिसे कई तरह से इस्तेमाल किया जाता है। इसकी रोटी भी बनाई जाती है, सत्तू बनाया जाता है और सूखा भूनकर भी खाया जाता है। अपने घर में और अपने स्कूल में बातचीत करके कुछ और अनाज के नाम पता करो।
गेहूं जौ
……..
……..

उत्तर: गेहूं जौ
बाजरा चना
मक्का सोयाबीन

(III) प्रश्न: गेहूं और जौ अनाज होते है और ये तीनो शब्द संज्ञा है। ‘गेहूं’ और ‘जौ’ अलग-अलग किस्म के अनाजो के नाम है इसलिए ये दोनों व्यक्तिवाचक संज्ञा है। और ‘अनाज’ जातिवाचक संज्ञा है। इसी प्रकार ‘रिमझिम’ व्यक्तिवाचक संज्ञा है और ‘पाठ्यपुस्तक’ जातिवाचक संज्ञा है।
(1) नीचे दी गई संज्ञाओ का वर्गीकरण इन दो प्रकार की संज्ञाओ में करो- लेह धातु शेरवानी भोजन ताँबा खिचड़ी शहर वेशभूषा

उत्तर: व्यक्तिवाचक संज्ञा – लेह, शेरवानी, ताँबा, खिचड़ी।
जातिवाचक संज्ञा – धातु, भोजन, शहर, वेशभूषा।

(2) ऊपर लिखी हर जातिवाचक संज्ञा के लिए तीन-तीन व्यक्तिवाचक संज्ञाए खुद सोचकर लिखो।

उत्तर: धातु – सोना, दाल, चावल
भोजन – रोटी, दाल, चावल।
शहर – दिल्ली, मुंबई, कलकत्ता।
वेशभूषा – धोती, साड़ी, कमीज़।

तुम सेर, मैं सवा सेर:

प्रश्न: इस लड़की का तो सभी लोहा मान गए। था न सचमुच नहले पर दहला! तुम्हे भी यही करना होगा।

तुम ऐसा कोई काम ढूंढो जिसे करने के लिए सूझाबुझ की जरूरत हो। उसे एक कागज में लिखो और तुम सभी अपने – अपने चीट को एक डिब्बे में डाल दो। डिब्बे को बीच में रखकर उसके चारों ओर गोलाई में बैठ जाओ। अब एक – एक करके आओ उस डिब्बे से ए क चिट निकालकर पढ़ो और उसके लिए कोई उपाय सुझाओ। जिस बच्चे ने सबसे ज्यादा उपाय सुझाए वह तुम्हारी कक्षा का ‘बीरबल’ होगा।

उत्तर: अध्यापक ने कहा कि तुम पानी का पत्थर लेकर आओ। कुछ सोचने के बाद मैंने उनसे कहा कि फिर आपको उस पत्थर को आधे घंटे हाथ में रखना पड़ेगा अध्यापक ने मुझे हां कह दिया फिर एक बर्फ का टुकड़ा ले आया और उन्हें दे दिया वह हैरान रह गए और मन ही मन सोचने लगे कि वह आधे घंटे हाथ में कैसे रखेंगे। छात्र ने अपनी सूझबूझ से कोई काम ढूंढकर खेल पूरा करें।

प्रश्न: मंत्री ने अपने बेटे से कहा “पिछली बार भेड़ों के बाल उतार कर बेचना मुझे जरा भी पसंद नहीं आया”। क्या मंत्री को सचमुच यह बात पसंद नहीं आई थी? अपने उत्तर का कारण भी बताओ।

उत्तर: ऐसा नहीं था कि उन्हें बात पसंद नहीं आई लेकिन मंत्री को पता चल गया था कि यह काम उन के बेटे का नहीं है। वैसे भी वह अपने बेटे को चलाक या होशियार बनाना चाहता था। इसलिए उसने ऐसा किया व बाद में उसने उस लड़की से अपने बेटे की शादी नहीं करवाई।

सिंग और जौ:

प्रश्न: पहली बार में मंत्री के बेटे ने भेड़ों के बाल बेच दिए और दूसरी बार में भेड़ों के सीन्ग बेच डाले। जिन लोगों ने यह चीजें खरीदी होगी, उन्होंने भेड़ों के बालों सींगों का क्या किया होगा? अपनी कल्पना से बताओ।

उत्तर: जिन लोगों ने यह चीजें खरीदी होगी उन्होंने भेड़ों के बालों से ऊंन के वस्त्र और सींगों से सजावटी सामान बनाया होगा।

Check Also

हिंदी

फसलों का त्योहार: 5th Class CBSE Hindi Chapter 02

प्रश्न: “खिचड़ी में अइसन जाड़ा हम पहिले कब्बो ना देखनीं।” यहाँ तुम “खिचड़ी” से क्या मतलब ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *