Sunday , September 23 2018
Home / 5th Class / नन्हा फ़नकार: 5th Class CBSE Hindi Chapter 04
हिंदी

नन्हा फ़नकार: 5th Class CBSE Hindi Chapter 04

प्रश्न: अकबर को पहरेदार की दखलंदाज़ी अच्छी क्यों नहीं लगी?

उत्तर: अकबर एक नेक दिल राजा था। वह अपनी प्रजा का भला चाहता था। समय-समय पर सबकी सहायता करने या बातचीत करने के लिए लोगों से मिलता-जुलता रहता था। केशव उसे आम इंसान समझकर बातें कर रहा था। पहरेदार के आने से उनकी बातचीत में बाधा आ गई थी इसलिए पहरेदार की दखलंदाजी अकबर को पसंद नहीं आई।

प्रश्न: “लगता है कोई बहुत बड़ा आदमी है”, यहाँ पर ‘बड़े आदमी’ से केशव का क्या मतलब है?

उत्तर: यहाँ बड़े आदमी से केशव का मतलब अमीर और प्रतिष्ठित आदमी से है।

प्रश्न: “खरगोश की-सी कातर आँखें” पशु-पक्षियों से तुलना करते हुए और भी बहुत-सी बातें कही जाती हैं जैसे – ‘हिरन जैसी चाल’। ऐसे ही कुछ उदाहरण तुम भी बताओ।

उत्तर:

  1. शेर जैसी दहाड़
  2. मोरनी जैसी गर्दन
  3. कोयल जैसी आवाज़
  4. हाथी जैसी चाल
  5. हिरन जैसी आँख
  6. लोमड़ी जैसी चालाकी
  7. कुत्ते जैसी नाक

प्रश्न: अकबर ने जब नक्काशी सीखना चाहा, तो केशव ने उन्हें संदेहभरी नज़रों से क्यों देखा?

उत्तर: अकबर एक बहुत बड़े बादशाह थे। उन्हें इस प्रकार के कार्य करने की आवश्यकता नहीं थी।जब उन्होंने केशव जैसे मामूली मज़दूर के साथ बैठकर पत्थर तराशने की इच्छा रखी, तो उसे बड़ी हैरानी हुई। उसका मन नहीं मान रहा था कि एक बादशाह उससे नक्काशी बनना सीखेंगे इसलिए उसने उन्हें संदेहभरी नज़रों से देखा।

प्रश्न: केशव दस साल का है। क्या उसकी उम्र के बच्चों का इस तरह के काम से जुड़ना ठीक है? अपने उत्तर के कारण ज़रूर बताओ।

उत्तर: केशव अभी केवल दस साल का है। उसकी उम्र के बच्चों का इस तरह के काम से जुड़ना ठीक नहीं है। वह बहुत छोटा है। इस उम्र में तो बच्चे पढ़ते-लिखते हैं और केशव केवल काम करता है। इस तरह उसका बचपन काम में समाप्त हो जाएगा। इस तरह वह अपनी उम्र से पहले ही बड़ा हो जाएगा और अपने बचपन को पूरी तरह जी नहीं पाएगा।

प्रश्न: “केशव बार-बार सबको सुनाता।” केशव सबसे क्या कहता होगा? कल्पना करके केशव के शब्दों में लिखो।

उत्तर: केशव कहता होगा मैं बादशाह अकबर से मिला। वे मेरे पास बैठे, उन्होंने मुझे कारखाने में काम करने के लिए कहा आदि।

प्रश्न: “माशा अल्लाह! ये घंटियाँ कितनी सुंदर हैं! तुमने खुद बनाई हैं?” बादशाह अकबर ने यह बात किसलिए कही होगी –

  1. केशव के काम की तारीफ़ में
  2. यह जानने के लिए कि घंटियाँ कितनी सुंदर हैं।
  3. केशव से बातचीत शूरू करने के लिए
  4. घंटियाँ किसने बनाई, यह जानने के लिए
  5. क्योंकि उन्हें यकीन नहीं था कि 10 साल का बच्चा केशव इतनी सुंदर घंटियाँ बना सकता है।
  6. कोई और कारण जो तुम्हें ठीक लगता हो।

उत्तर: 5. क्योंकि उन्हें यकीन नहीं था कि 10 साल का बच्चा केशव इतनी सुंदर घंटियाँ बना सकता है।

प्रश्न: केशव पत्थर पर घंटियाँ तथा कड़ियाँ तराश रहा था। उसके द्वारा तराशी जा रही घंटियों और कड़ियों का चित्र अपनी कॉपी में बनाओ। तुम्हें क्या कोई खास इमारत याद आ रही है जिसमें नक्काशी की गई हो। संभव हो तो उसकी तस्वीर चिपकाओ।

उत्तर: ताजमहल, अक्षरधाम मंदिर ऐसे हैं, जिसमें सुंदर नक्काशी देखने को मिलती है।

प्रश्न: केशव के पिता गुजरात से आगरा आकर बस गए थे। हो सकता है तुम या तुम्हारे कुछ साथियों के माता-पिता भी कहीं और से यहाँ आकर बस गए हों। बातचीत करके पता लगाओ कि ऐसा करने के क्या कारण होते हैं?

उत्तर: मुझे दादा तथा पिताजी से बातचीत करके पता लगा कि इसके कई कारण हो सकते हैं। जैसे – रोज़गार, नौकरी, व्यापार आदि के लिए लोग एक जगह से दूसरी जगह आकर बस जाते हैं।

प्रश्न: (I) नक्काशी जैसे किसी एक काम को चुनो (बढ़ईगिरि, मिस्त्री इत्यादि) जिसमें औज़ारों का इस्तेमाल होता है। उन ख़ास औज़ारों के नाम और काम पता करके लिखो।
(II) छैनी, हथौड़ा, तराशना, किरचें – ये सब पत्थर के काम से जुड़े हुए शब्द हैं। लकड़ी के दुकानदार और बढ़ई से बात करके लकड़ी के काम से जुड़े शब्द इकट्ठे करो और कक्षा में उन पर सामूहिक रूप से बातचीत करो। कुछ शब्द हम यहाँ दे रहे हैं।
आरी, रंदा, बुरादा, प्लाई, सूत…
(III) हो सकता है कि तुम्हारे इलाके में इन चीज़ों और कामों के लिए कुछ अलग किस्म के शब्द इस्तेमाल होते हों। उन पर भी बातचीत करो।

उत्तर: (I)

  1. आरी: लकड़ी काटने के लिए
  2. हथौड़ी: कील ठोकने के लिए
  3. रंदा: लकड़ी घिसने के लिए
  4. जमूर: कील उखाड़ने के लिए

(II) छात्र स्वयं करें।

(III) छात्र स्वयं करें।

प्रश्न: “कटाव” शब्द “कट” क्रिया से पैदा हुआ है। नीचे लिखी संज्ञाएँ किन क्रियाओं से बनी हैं? इन संज्ञाओं का अर्थ समझो और वाक्य में प्रयोग करो। चुनाव पड़ाव बहाव लगाव

उत्तर:

संज्ञा
क्रिया
वाक्य
चुनाव =
चुनना
अच्छी किताब का चुनाव कर लो।
पड़ाव =
पड़ना
आज यहीं पड़ाव डाल लो।
बहाव =
बहना
गंगा का बहाव बहुत तेज़ है।
लगाव
लगना
उसे अपने से बहुत लगाव है।

प्रश्न: “लड़के ने जल्दी-जल्दी कोई प्रार्थना बुदबुदाई”। रेखांकित शब्द और नीचे लिखे शब्दों में क्या अंतर है? वाक्य बनाकर अंतर स्पष्ट करो। फुसफुसाना, बड़बड़ाना, भुनभुनाना।

उत्तर:

  1. फुसफुसाना: (धीरे से कुछ बोलना) गीता ने सहेली के कान में फुसफुसाया।
  2. बड़बड़ाना: (किसी बात को मुँह में ही बार-बार बोलना) वह बहुत ही बड़बड़ाता है।
  3. भुनभुनाना: (गुस्से से धीरे बोलना) भुनभुनाना अच्छी बात नहीं है।

प्रश्न: “बेवकूफ़, खड़ा हो। हुज़ूरे आला के सामने बैठने की जुर्रत कैसे की तूने! झुककर इन्हें सलाम कर”। महल के पहरेदार ने केशव से यह इसीलिए कहा, क्योंकि –

  1. बादशाह के सामने बैठे रहना उनका अपमान करने जैसा है।
  2. पहरेदार यह कहकर अपनी वफ़ादारी दिखाना चाहता था।
  3. पहरेदार को बादशाह के आने का पता नहीं चला, इसीलिए वह घबरा गया था।
  4. बादशाह का केशव से बात करना पहरेदार को अच्छा नहीं लगा।

उत्तर: महल के पहरेदार ने केशव से यह इसीलिए कहा, क्योंकि –

2. पहरेदार यह कह कर अपनी वफ़ादारी दिखाना चाहता था।

Check Also

Hindi Grammar

राख की रस्सी: 5th Class CBSE Hindi Chapter 01

भोला-भाला: प्रश्न: तिब्बत के मंत्री अपने बेटे के भोलेपन से चिंतित रहते थे? (1) तुम्हारे ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *